पड़ोस की भाभी के साथ बस का सफर -3

कहानी का पिछला भाग: मेरे बस के सफ़र से आगे का सफ़र-2मैंने भाभी को नीचे खींचा और फिर से उनके मम्मे दबाने लगा. मेरा जोश अब पहले से भी ज्यादा था. क्या पता फिर मौका मिले ना मिले? मैं उनके मम्मे चूसे ही जा रहा था और एक हाथ से चूत सहला रहा था. मैंने … Read more

पड़ोस की भाभी के साथ बस का सफर -2

दोस्तो, मुझे बहुत खुशी हुई कि आपको मेरी कहानी बहुत पसंद आई. बहुत सारे मेल मिले और आगे की कहानी लिखने के लिए कहा गया.तो अब मैं आप को आगे की कहानी बताता हूँ. बस से उतरने के बाद हम अपने अपने रास्ते निकल गए. लेकिन एक बात मेरे दिल में थी कि भले ही … Read more

पड़ोस की भाभी के साथ बस का सफर

नमस्ते दोस्तो! मेरा नाम आशीष है, अब मेरी उम्र 32 साल है पर बात तब की है जब मैं अट्ठारह साल का था. मैं बारहवी में पढ़ रहा था. मेरे बाजू वाले घर में गुड्डी भाभी रहती थी.उनका फिगर 34-32-36 का है उम्र 24 साल थी हमारा उनके यहाँ आना जाना तो था, थोड़ी मस्ती … Read more

असिस्टेंट इंजीनियर की बीवी की चुदाई

दोस्तो, यह बात उस समय की है जब मेरी पोस्टिंग कोटा में थी और विभाग में मैं नया था। वहाँ मैं जवाहर नगर में किराए से रहता था। इत्तेफाक से दोस्तों वहीं पास में हमारे विभाग के एक अधिकारी का घर भी था जो दूसरे कार्यालय के अधिकारी थे। मुझे पता नहीं था.. फिर भी … Read more

अकेली भाभी की प्यासी चूत की चुदाई

हमारे पड़ोस में एक भाभी रहती है, भाईसाहब की मृत्यु कोई चार वर्ष पहले हो गई थी। भाभी की उम्र कोई 45 के आस पास होगी, लेकिन फिगर अच्छा मेंटेन कर रखा था, इस उम्र में भी उन्हें कोई 35-36 से ज्यादा का नहीं कह सकता। उनका लड़का एक लड़की को लेकर भाग गया, छोटी … Read more

कसरती जिस्म देखकर मंत्रमुग्ध हो गई

मेरा नाम सुजाता है, मैं राजकोट के एक गाँव से हूँ। मेरे पति लखनऊ में सरकारी पद पर कार्यरत हैं इसलिए साल में मुश्किल से 25-30 दिन हम साथ गुजारते हैं।हमारे दो बच्चे हैं एक लड़का और एक लड़की, दोनों ही दिल्ली में रहकर अपनी पढ़ाई कर रहे हैं। दोस्तो, मैं बाकी लड़कियों या औरतों … Read more

103 डिग्री बुखार मे

मैं सुनील, 26 साल का राजस्थान से हूँ। यह बात उन दिनों की है जब मैं नया-नया जवान हुआ था। मैं एक लड़की को पसंद करने लगा, कब प्यार हुआ पता ही न चला।इतनी ज्यादा जानकारी भी नहीं थी। स्कूल में मुझे सब अक्षय कुमार कहते थे।स्कूल में बहुत लड़कियों से दोस्ती थी, लेकिन उनके … Read more

काम वासना की तृप्ति पडोसी के साथ

मेरा नाम सुजाता है, मैं राजकोट के एक गाँव से हूँ। मेरे पति लखनऊ में सरकारी पद पर कार्यरत हैं इसलिए साल में मुश्किल से 25-30 दिन हम साथ गुजारते हैं।हमारे दो बच्चे हैं एक लड़का और एक लड़की, दोनों ही दिल्ली में रहकर अपनी पढ़ाई कर रहे हैं। दोस्तो, मैं बाकी लड़कियों या औरतों … Read more

कुंवारी चूत चुदाई का आनन्दमयी खेल

मेरा नाम रेखा है, मैं नासिक (महाराष्ट्र ) कालवन के पास नाभा में रहती हूँ। मैं गयारहवीं क्लास की छात्रा हूँ, पढ़ाई में ठीक ठाक हूँ मगर सेक्स के मामले में बहुत तेज़ हूँ। जब से जवानी ने मेरे बदन में बदलाव लाने शुरू किए, तब से मैं इस बात को लेकर बहुत उत्सुक रही … Read more